top 50 types of fish in india best eating and names ful jankari

Shayr

top 50 types of fish in India best eating and names Ful Jankari

top 50 types of fish in india best eating and names ful jankari बेस्ट फिश की हर जानकारी जाने

To know how to make the best health fish, which river water is the best. How many friends from us

Sagari is the people. So how many non-vegetarians. Today, in this post, we will learn about 50 best fish, how many of us will eat fish and many people do not eat it. Do you know which water of the fish is best for eating. And how much is the Swadist. Because water – there is a lot of difference in water, as we drink the river water. And there is a difference in the water of tap water. In the same way, there is a difference in the taste of fish. Perhaps you have read about it, but today we will talk about 50 fish which is full of health and taste.

बेस्ट हेल्थ फिश बनाने की विधि जाने कौन सा नदी पानी वाला फिश बेस्ट है | दोस्तों हम से कितने

साकाहारी लोग है | तो कितने मांसाहारी है | आज हम इस पोस्ट में जानेंगे 50 बेस्ट मछलियों के बारे में वैसे तो हम में से कितने लोग मछली खाते होंगे और बहुत से लोग नहीं खाते है | क्या आप जानते है  की किस पानी का मछली खाने  के लिए बेस्ट है | और कितना स्वादिस्ट होता है | क्योकि पानी – पानी का बहुत अंतर पड़ता है |जैसे हम नदी का पानी पीते है | और नल के पानी में अंतर आ जाता है \ ठीक उसी प्रकार मछलियों के स्वाद में अंतर आ जाता है | शायद आप ने इसके बारे में पढ़ा हो लेकिन आज हम 50 ऐसे मछलियों के बारे में बातायेगे जो की हेल्थ और स्वाद से भरा है |

बेस्ट फिश हेल्थ और आँखों के लिए इन्डिया में इसे पोठिया मछली कहते है 1

Ignore seeing this fish. Small fish is knowledgeable but you do not know that this fish

The health and health of your eyes does not lessen your health than eating this fish.

Say and this is absolutely true. Because the people who kill the fish get old. But their rosary continues. This is not so. Because of all the fish killers there are many people who eat it very little. Seeing small fish, because he eats a big fish with pies. This is not so. It does not make a lot of goodness. Because it is more bitter in it. That’s why less people eat it. If it is eaten in the month of June and July. Very well made. These fish get more then. It weighs 50 grams. This is not so. You must eat it ten days or twenty days a year top 50 types of fish in india best eating and names ful jankari

पोठिया

इस मछली को देखकर इग्नोर कर देते है | छोटी मछली जानकार लेकिन आप नहीं जानते है |की ये मछली

हेल्थ और आँखों के रोसनी के लिए इस मछली को खाने से आपकी रोसनी कभी कम नहीं होती एसा डॉक्टर

का कहना है | और ये विल्कुल सच है | क्योकि मछली मारनेवाले इंसान बूढ़े हो जाते है | लेकिन उनका रोसनी बरकार रहती है | एसा नहीं है | सभी मछली मारनेवालो की क्योकि बहुत से ऐसे लोग है जो इसे बहुत कम खाते है | छोटी मछली देखकर क्योकि उसे बड़ा पिस वाला मछली खाते है | एसा नहीं है | की स्वादिस्ट नहीं बनती है ये बहुत स्वादिस्ट भी बनती है | क्योकि इसमें काटे ज्यदा होता है | इसलिए इसे कम लोग खाते है | इसको अगर Jun and July महीने में खाते है | बहुत ही स्वादिस्ट बनती है | ये मछली उस समय ज्यदा मिलती है | इस इसका वजन 50 ग्राम तक का होता है | एसा नहीं है | आप इसे साल में दस दिन या बीस दिन जरुर सेवन करे

 

धुता फिश इस मछली का पेटी लाजवाब 2

Yes, friends, this fish box is so delicious. It is easy to say. This cite

Is fish. There is a lot of thorn in it but it is thin. These ranges from 100 grams to 20

Kilo does not grow bigger. It’s one in millions. We never say anything at all. That’s exactly the same as you are in millions. Like we have already said that water is supplied with water. If you talk about this rupee then where you get it. 500 – 600 rupees per kilo sells. How to make it known in next post best indian fish to eat

जी हां दोस्तों इस मछली का पेटी इतना स्वादिस्ट होता है | की कहना मुसकिल है | यह चोइटादार

मछली है |  इसमें काटे ज्यदा होता है लेकिन पतला होता है | ये 100 ग्राम से लेकर 20

किलो से ज्यदा बड़ा नहीं होता है | यह लाखो में एक है | हम किसी बात पर कभी ना कभी कह देते है | की तुम लाखो में एक हो ठीक उसी प्रकार है | जैसे हमें पहले ही कह चुका हु की स्वादिस्ट में पानी पानी का अन्तेर होता है | इसके रूपये की बात करे तो जहा मिलती है | 500 -600 रूपये किलो की हिसाब से बिकता है | इसकी बनाने की विधि अगले पोस्ट में जानेगने

तिनकटिया छोटी मछलियों में

Swadist Tinkhia jam looks strange. Maybe you do not know.

This is a health less fish.

Their buds are very sharp. Because of this, people buy it less. But we tell you

Let’s give it a fish filled with vegetables. It is said that the sign is the same kinata. Those who have consumed it and have tasted it. They know this. How to consume it with rice and lentils It is very fun to eat so that the mind gets satisfied. If you have not eaten it yet, then once you do not enjoy it, then I have told you to name and eat fish only in this post.

तिनकटिया

स्वादिस्ट तिनकटिया जाम से अजीब लगता है | शायद आप नहीं जानते है |

यह एक हेल्थ रहित मछली है |

इनकी काटे बहुत नुकीले होते है | इसकी वजह से लोग इसे कम खरीदते है | लेकिन हम आपको बता

दे की यह भी एक स्वादिस्ट से भरा फिश है | कहते है जो चिन्हाता है वही किनता है | जो इसका सेवन कर चुके है और इसका स्वाद चख चुके है | वो इसको जानते है | इसको कैसे सेवन करे चावल और दाल के साथ ले इतना खाने में मजा अता है की मन संतुस्ट हो जाता है | अगर आप इसको अभी तक सेवन नहीं किया है तो एक बार जरुर मजा ना आय तो कहना मने केवल इस पोस्ट में मछलियों के नाम और खाने के लिए बताया है |

फसिया फिश मछली फुजिया बनाने के लिए 4

इस फिश को सब्जी बनाने से कोई फायदा नहीं यह एक काटेदार फिश है | इसमें काटे बहुत ज्यादा

होता है | अगर इसको सब्जी बनाते है तो काटे से खाने को मन नहीं करेगा और इतना स्वादिस्ट भी

नहीं बनता है | अगर इसका भुजिया बनाते है तो बहुत अछा बनता है | क्योकि भुजिया बनाते है | झुर हो जाता है | और इसका काटा भी झुर होकर मिल जाते है |इसलिए भुजिया स्वादिस्ट होता है | और इसको तावे पर ताल देते है तो भी अच्छा होता है |

बचवा फिश बेस्ट सब्जी 5

बचवा एक एसा मछली है जो इंडिया के लोग इसे बहुत ज्यदा पसंद करते है |

और ये पसंद करने योग है | क्योकि ये बहुत ही अच्छा सब्जी होता है |

जो एक बार खाए वो बार बार खाने को मन को ललचता है | क्योकि जो चीज हमें खाने में बहुत पसंद है | वो अधिक खाने को चाहते है | ठीक उसी प्रकार जब ये एक बार खाते है तो बार बार खाने को जी चाहता है | लेकिन इसे ज्यदा न खाए जहाने का मतलब है | की लगातार इसे महीनो तक सेवन न करे क्योकि इसमें तेल अधिक मात्रा में होता है | जिसके वजह से आपका पेट जड़ सकता है | लेकिन आप कायेंगे तो मजा आ जाएगा अगर आप पहली बार खायेंगे तो इसके दीवाने हो जायेंगे ये 500 रूपये किलो तक विकता है | बचवा दो प्रकार के होते है एक सुगवा और दुसरा बचवा दोनों को लोग बचवा ही बोलते है | 200 रूपये से लेकर 500 रूपये तक विकता है

top 50 types of fish in india best eating and names ful jankari

सुतारी एक एसा मछली है | जो भी ऊपर के सभी मचलियो के बारे बताया है |

उससे ज़रा हटके है | जिसे हम सुतारी कहते है कुछ लोग इसे सुतरी भी कहते है |

इसको इंडिया के लोग बहुत कम खाते है | कहते है जैसे सोनो सोनार को पहचानता है | ठीक उसी प्रकार मछली मारनेवाला इसको पहचानता है | यह एक छोटी और पतला होती है | शायद यह जानकार लोग इसे कम खरीदते है |की देखने में छोटी है | या इसके भाव के कारन ये 400 रूपये किलो के भाव से विकता है | हालाकि ये भाव फिक्स नहीं है | सब्जी से लेकर भुजिया इतना बेस्ट स्वादिस्ट बनता है | इसका तो कोई जवाब ही नहीं है |इसके बनाने की विधि थोड़ी से अलग है | ज्यदा तो नहीं लिखूंगा आप एक बार खाकर देखे ये हर समय नहीं मिलती है | ये चार महीने मिलती है | गर्मी के दिनी में

 top 50 types of fish in india best eating and names ful jankari

बरारी फिश

यह भी एक सुंदर फिश है | इसका वजन 100 ग्राम से लेकर 20 किलो तक के होती है |

यह खाने में भी बहुत स्वादिस्ट होती है | वैसे तो हर समय खाते है | लेकिन माँघ महीने में

इसको खाते है |तो अधिक स्वादिस्ट बनती है | क्यों हर समय आम नहीं मिलता है | अगर आप सर्दियों में आम खाते तो कैसा लगता वैसे इस फिश को खाने का समय माँघ महीने में स्वाद से भरपूर होता है | कहते है जो चीज हमें खाने पसंद है | वो चीज कुछ समय बाद मिलता है | तो उसका मजा ही कुछ अलग होता है | वैसे ही साल में एक बार ही खाए जिससे की आनंद आ जाए

हरदा मछली 8

हरदा मछली भी एक छोटी मछली है | यह चोइतादार् है ये देखने में बहुत ही सुंदर दिखती है |

यह हमारे हेल्थ के लिए भी सही है | क्योकि जब भी कोई बीमार पड़ता है |

डॉक्टर के पास जाते है तो खाने के बारे में पूछते है | तो डॉक्टर इस मछली को खाने की सल्लाह देते है | या कहते है छोटी मछली खा सकते है | इसलिए स्वाद के साथ साथ हेल्थ के लिए भी सही है | लेकिन ज्यदातर लोग इसे नहीं खरीदते है | क्योकि उसे पिस वाला  मछली चाहिए कभी कभार छोटी मछली भी खाया करे वैसे स्वाद में भी बेस्ट है | मैंने पहले ही बोला है | स्वाद में पानी पानी का अंतर हो सकता है |का  होता है | ये आपको 100 रूपये किलो की दर से बिकता है | हालांकि इसका भाव इस्थिर नहीं है | क्योकि ये काचा चीज है| कभी ज्यदा मिलता है | और कभी कम इसलिए भाव में अंतर हो सकता है |

सुगवा 9

सुगवा भी एक बहुत ही स्वादिस्ट मछली है जैसे की बचवा है |

लेकिन दोनों में बहुत ही अंतर है | क्योकि सुगावा एक फ्रेस मछली है | लेकिन दूसरी तरफ बचवा इसमें तेल अधिक मात्रा में होता है | और इसका मांस भी मुलायम होता है | जो हम पेटी बोलते है वो इतना बेस्ट लगता है खाने में की क्या कहे वही सुगवा में पेटी में तेल न होने से इसके स्वाद में अंतर आ सकता है | बचवा इंडिया में अधिक लोग पसंद करते है |

 top 50 types of fish in india best eating and names ful jankari

शायद आप नाम सुने हो बामी मछली का इंडिया मे भी बहुत से लोग ऐसे है |

जो मछलियों को नहीं पहचानते है | की कौन मछली बेस्ट है वो घाट पर आते है |

तो पूछते है | ये कौन मछली ये कौन मछली या कौन मछली अच्छी है | कौन ताजा है | सबसे बड़ी बात है | की लोग ये नहीं देखते है की कौन ताजा है | जो मिला खरीदकर चल देते है | ये पतला और लंबा होती है | या भी एक बहुत ही स्वादिस्ट बनानेवाली फ़ीस है |

 top 50 types of fish in india best eating and names ful jankari

टेगना बहुत अच्छी मछली है ये दो प्रकार के जैसे की आप ने बचवा दो प्रकार के होते ठीक उसी

प्रकार तेगना दो प्रकार के होते है एक एक नाम नटवा और दुसरे का सर्ग्वा वैसे तो दोनों खाने के

बेस्ट है | लेकिन इन दोनों में से नटवा बहुत ही बेस्ट है सर्न्ग्वा के अपेक्षा जैसे की आप ने  खोसी और बकरी के मिट में अंतर पाया है | उसी प्रकार इसमें भी पाया जाता है ये अंडे से लेकर 20 किलो तक की होती है | लेकिन 4 से 5 किलो के बिच इस फिश को खाते है | तो इसका टेस्ट ही कुछ अलग होगा ये 500 रूपये किलो के दर से बिकता है | इसका कोई रेट फिक्स नहीं है | क्योकि जब इसकी डिमांड ज्यदा होता है | तो दर भी बढ़ जाता है

पथरी 11

पथरी एक एसा मछली है लोग बहुत ही कम खाते है | लोग इसको फेक देते है इसमें एक पथेर

भी होता है | वो होता होता है इसके माथे पर लेकिन सभी को पता नहीं की ये इतना बेस्ट है |

खाने के लिए शायद आपको मालुम नहीं होगा ये गीव के तरह स्वादिस्ट बनती हैजब हम सब्जी बनाते है |

उसे कचे खाने में कोई स्वाद नहीं होता ठीक उसी प्रकार इसका इसका भी समय है आप साल मे

कभी भी बनाए उतना स्वाद नहीं होगा जितना आप इसको दिसम्बर के महीने में बनाते है |

भरा होता है की जिसका कोई जवाब नहीं होता खाकर मन संतुस्ट हो जाता है | इसके स्वाद से

ये आपको 20 रूपये किलो के भी दर से मिल जाता है | इसके बनाने की विधि अगली पोस्ट में जानेंगे

हरदा मलिहया 12

ये भी एक छोटी मछली है आप छोटी फिश समझकर ये मत समझना की ये किस स्वाद का लगेगा श्याद

न मालुम के कारन एसा कहेंगे लेकिन आपका कहना गलत है | क्योकि मैंने हर तरह की मछली खाई है

कौन फिश कैसा बनता है | छोटी से लेकर बड़ी तक किस समय कौन स्वाद भरा होता है मुझे अच्छी तरह से मालुम है | क्योकि मछली का काम 20 वार्स किया है और अभी भी कर रहा हु मै मछली मारता भी मारता हु इसलिए मै कौन कब स्वाद से भरा होता है | इतनी तो ज्ञान है मुझे तो मै लोरिया फिश की बात कर रहा था आप इसको जुलाई के महीने में खाकर देखे की इसमें कितना स्वाद है |

top 50 types of fish in india best eating and names ful jankari

चलवा फिश भी एक अच्छी फिश है ये हेल्थ रहित है | इसको सौक से भी लोग खाते है |

ये हरदा की तरह ही होती है लेकिन हरदा से कुछ अलग है जैसे मै कुछ छोटी फिश नाम

जान लेते है जैसे गुर्दा ये किसी काम की फिश नहीं है , लोरिया ये भी कुछ कम की नहीं इसमें काटे बहुत होते है , पतसा ये एक बहुत अच्छी फिश है,फसिया इसमें काटे इतने होते है की खाने में भी मुस्किल है , लोहिया इत्यादि

top 50 types of fish in india best eating and names ful jankari

बघवा एक बेस्ट फिश है इसमें केवल एक ही काटे है वो भी बहुत छोटी जो उसके नाक के

सटे होते है इसमें ज्यदा लदा भी नहीं होता ये मेरा फेब्रेट पसंद फिश है क्योकि ये इतना स्वाद से

भरा बनता  है की हम क्या कहे ये हमेशा नहीं मिलता है ये गर्मियों के दिनों में अधिक मिलता है और इतना भी अधिक नहीं की आप इसे बेच सको 2 किलो एक किलो मिलता है लेकिन इसका स्वाद है भाई क्या पता आपको मिला है या नहीं अगर आपको मिले तो आप खाकर देखे आप कहेंगे क्या मछली है मैंने आज तक एसी मछली अभी तक नहीं खाई है | क्या बनती है खाकर मन संतुस्ट हो जाता है | शायद आप ने कभी खाए होंगे तो जानते होंगे की इसमें कितना स्वाद है देखने में तो छोटी है लेकिन इसमें रस जैसा स्वाद भरा है |

best indian fish to eat 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: