Sulekha prem kahani new part 1 सुलेखा प्रेम कहानी न्यू पार्ट वन

Shayr

Sulekha prem kahani new part 1 सुलेखा प्रेम कहानी न्यू पार्ट वन

सुलेखा प्रेम कहानी न्यू पार्ट वन   दोस्तों हमारा बपचन से कहानी पढने और लिखने का बहुत शौख रहा है.

हमने बहुत सारी कहानिया पढ़ी है. हमें दुसरो की मदद क्यों करनी चाहिए ये भी पढ़े 

हर कहानी से कुछ न कुछ ज्ञान मिलता ही है. आज से हमने इस पोस्ट में एक प्रेम कहानी लिखने जा रहा हु

शायद आपको पसंद आय ये कहानी एक काल्पनिक है .जिसे हम सपना कह सकते है.ये कहानी अपने ज्ञान के

आधार पर लिखने जा रहा हु शायद इस कहानी का दो चार दस भी पोस्ट लिखे जा सकते है .Adinational

 

प्रेम किसी से कहकर और बोलकर नहीं किया जाता है. बस ये हो जाता है.और ना ही इसमें जात पात

की भावना होती है. लेकिन आज कल प्यार के नाम पर हवस मिटाया जाता है. जो हम कह सकते है .की

हवस कों मिटाने के लिए दिखावा प्यार करते है.शायद ये पोस्ट आपको पसंद आया या ना क्योकि इसमें सचाई

है.प्यार दो दिलो का मिलन है.ना की उसके जिस्म के भूखे हो प्यार दो आत्माओं का मिलन होता है.तो आइये

जानते है .एक प्रेम कहानी | कहानी एक बन्दर का 

 

ये कहानी एक गाव से शुरू होती है

उस गाव का नाम था सपना उस गाव में रोजगार नाम का इंसान रहता था उसके एक लड़की थी जिसका सुलेखा

नाम था उसके पिताजी बहुत नेक दिल इंसान थे सुलेखा पढने में बहुत तेज थी दिन गुजरता गया देखते देखते

सुलेखा जवान हो गई सुलेखा के पिताजी लड़के ठुठने लगे सुलेखा की शादी के लिए एक बहुत सुन्दर घर मिला उसने

शादी तय कर दी उसकी शादी हो गई सुलेख बहुत सुन्दर और सुसील लड़की थी और उसका रहन सहन भी बहुत

 

अच्छा था समय बीतता गया शादी कों चार साल बित गय और उसके एक बच्चा भी हो गया इतने में सुलेखा के पति

का सेहत ख़राब हो गया उसके पथरी के सिकायत होने लगी की उसके पेट में पथरी हो गई है.

सुलेखा के पति दिन पर दिन दुबर होने लगा क्योकि उसका तबियत ठिक ठाक नहीं चल रही थी इसी तरह

कुछ दिन गुरने के बाद एक दिन की बात है.Adinational

सुलेखा का एक देवर था जिसका नाम था चंचल वह बहुत शरारती था एक दिन की बात है.सुलेखा अपने पति कों

अपने कमरे में सुलाकर घर से बाहर आई तो उसका मन कुछ और सोचने लगा…….

इसके आगे का कहानी अगले पोस्ट में जानेंगे सुलेखा कहानी का अगला पोस्ट में आगे की कहानी 

 

4 thoughts on “Sulekha prem kahani new part 1 सुलेखा प्रेम कहानी न्यू पार्ट वन

  • June 28, 2018 at 3:00 pm
    Permalink

    I’m not sure exactly why but this web site is loading extremely slow for
    me. Is anyone else having this problem or is it a issue on my end?
    I’ll check back later on and see if the problem still exists.

    Reply
    • June 28, 2018 at 5:14 pm
      Permalink

      Do not spam by doing KRIPYA, comment only if there is a problem or else do not comment

      Reply
  • July 8, 2018 at 11:25 pm
    Permalink

    My developer is trying to persuade me to move tto .net from
    PHP. I have alԝays disliked tһe idea because of the
    expenseѕ. But he’s tryiong none the less.
    I’vebeen using Μovable-type on numerous webnsites for aƅout
    a year and am anxious aboսt sѡitching to another platform.
    I have heard great things about blogengine.net. Is there a ԝay I can ttransfer all my wordpress posts into it?
    Any help would be greatly appreciated

    Reply
  • September 8, 2018 at 11:12 am
    Permalink

    Greetings! I’ve been following your weblog for a while now and finally
    got the courage to go ahead and give you a shout
    out from Porter Tx! Just wanted to mention keep up the excellent work!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: